18-Oct-2018 02:43:36 PM

दमोह/बांदकपुर : 08-OCT-2018/
80 वर्षों में पहली बार शिव भक्तों को मिला बांदकपुर मंदिर कमेटी बैठक में सुझाव प्रश्न रखने का मौका
श्री जागेश्वर नाथ धाम बांदकपुर का मंदिर बहुत प्राचीन है और यह विशेष प्रसिद्ध स्थान हजारों लाखों भक्तों की श्रद्धा भक्ति का केंद्र है जहां आकर सभी शिव भक्तों की मनोकामना पूर्ण होती है बांदकपुर की प्रसिद्धि को देखते हुए वर्ष 1933 में आजादी के बहुत पहले से ही मंदिर कमेटी का गठन किया गया बांदकपुर आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा सेवा एवं मंदिर की व्यवस्था के लिए यह गठन हुआ था लेकिन लगभग 80 से 90 वर्षों से मंदिर कमेटी के संचालन के बाद मंदिर से जुड़ी जानकारी शिव भक्तों तक नहीं पहुंच पा रही थी और ना ही कोई सुविधाओं का लाभ मिल पा रहा था अनेक प्रकार की छोटी बड़ी असुविधाओं का सामना शिवभक्त वर्षों से कर रहे थे लेकिन पिछले चार-पांच वर्षों से कुछ शिव भक्तों के द्वारा सार्थक प्रयास शुरू हुये शिव भक्तों ने समय-समय पर मंदिर कमेटी को ज्ञापन आदि के माध्यम से अवगत कराया साथ ही बांदकपुर आने वाले अनेक राजनेताओं को पक्ष विपक्ष के नेताओं को लगातार बांदकपुर के विषय में ज्ञापन आदि के माध्यम से सूचित किया शिवभक्तों ने अपने स्तर पर भी अनेक प्रकार के धार्मिक आयोजन किये भक्तों की सुविधा के लिए अपने स्तर पर लगातार प्रयास किया लेकिन लगातार मंदिर कमेटी एवं नेताओं की उपेक्षा के चलते बांदकपुर की ओर एवं शिव भक्तों की सुविधा की ओर किसी का ध्यान नहीं जा रहा था।
लेकिन पहली बार 80 वर्षों में यह मौका मिला और शिव भक्तों को मंदिर कमेटी की बैठक में अपने प्रश्न सुझाव और विचार रखने का सीधा अवसर मिला 24 जुलाई को मंदिर कमेटी को ज्ञापन दिया गया था जिसमें श्री पंकज हर्ष श्रीवास्तव ने सभी शिव भक्तों को बैठक में बुलाकर चर्चा करने का भरोसा दिया भक्तों ने बैठक के लिए बहुत तयारी भी की और 7 अक्टूबर रविवार को सभी क्षेत्रों से आए हुए शिव भक्तों ने बांदकपुर मंदिर कमेटी के सामने बांदकपुर आने वाले श्रद्धालुओं की असुविधा से जुड़े अनेक विषय सामने रखें जिनमें प्रमुख मंदिर में साफ सफाई ,पॉलिथीन प्रयोग प्रतिबंधित ,मंदिर के बाहर जूते चप्पल रखने की व्यवस्था, निशुल्क धर्मशालाएं साफ सफाई उचित व्यवस्था के साथ, भक्तों को प्रसाद वितरण पर्वों पर भंडारा ,पार्किंग व्यवस्था उचित मूल्य पर,
बांदकपुर आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए शौचालयों का निर्माण, मंदिर गौशाला में गायों के लिए हरा चारा दाना चुनी दवाई डॉक्टर आदि का प्रबंधन, गोवर्धन पर्वत पर गायों के लिए व्यवस्थित गौशाला का निर्माण मंदिर, के चारों ओर का अतिक्रमण हटाकर सुंदर व्यवस्थित निर्माण, संस्कृत विद्यालय में व्यवस्थित उच्च शिक्षा ,मंदिर की भूमि पर राजनीतिक आयोजनों पर प्रतिबंध ,बांदकपुर मंदिर में vvip कल्चर पूर्णत प्रतिबंधित हो ,बड़ी ट्रेनें बांदकपुर स्टेशन पर स्टॉपेज, राजनेताओं के द्वारा छोड़े गए अधूरे कार्यो को पूरा करने की बात, हर महीने शिव भक्तों को मंदिर से जुड़ी जानकारी सार्वजनिक हो एवं सभीभक्त अपना सुझाव प्रश्न विचार मंदिर कमेटी के सामने रख सकें एवं भी अपना सहयोग भी प्रदान कर सकें ऐसी व्यवस्था हो।
राम गौतम ने बताया कि बहुत प्रयासों के बाद ये अवसर मिला।मंदिर कमेटी ने शिवभक्तों की बातों को ध्यान से सुना और कुछ कार्यों के लिए तुरंत प्रभाव में लिया जैसे साफ-सफाई ,सुरक्षा को देखते हुए और केमरे लगेंगे,धर्मशाला को खोल कर उसमें उचित व्यवस्था करके भक्तों को निशुल्क मिले,मंदिर के आसपास शराब मांस अंडा आदि की बिक्री पर प्रतिबंध लगे, मंदिर की भूमि पर राजनेताओं की किसी भी प्रकार की राजनीतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध हो, शिव भक्तों को अपने सुझाव प्रश्न रखने का अवसर मिलेगा साथ ही बैठक में भी अलग से समय दिया जाएगा बाकी कार्य पूर्ण होंगे यह भरोसा मंदिर कमेटी ने शिव भक्तों को दिया है।
रविवार को बांदकपुर में बहुत ही गहमागहमी रही सुबह से ही टीआई मिश्रा सहित भारी पुलिस बल तैनात रहा और जगह-जगह पुलिस की व्यवस्था की गई यह सब देखकर लोग हैरान थे। लेकिन राम गौतम ने बैठक में उपस्थित क्षेत्र से आए सभी शिव भक्तों ,ग्रामवासियों का धन्यवाद ज्ञापित किया साथ ही विशेष रूप से सभी पत्रकार बंधुओं का धन्यवाद किया गया सभी पत्रकार बंधुओं का बांदकपुर के लिए निरंतर सहयोग मिला है। एवं पत्रकार भाइयों की बैठक में उपस्थिति भी रही श्री गौतम ने कहा हम सब के प्रयासों से बांदकपुर में सुंदर व्यवस्थित निर्माण कार्य हो एवं भक्तों को सुविधा प्राप्त होगा इस तरह के प्रयास चलते रहेंगे।

शेयर करे

Add a Comment