18-Oct-2018 03:25:45 PM

उदयनगर 08 SEPT 2018 / सरकार द्वारा प्रति वर्ष सितम्बर माह के प्रथम सप्ताह में राष्ट्रीय पोषण आहार सप्ताह मनाया जाता है । जिसमे लोगों को सुपोषित एवं संतुलित आहार से संबंधित जानकारी दी जा सके । यह कहना है उदयनगर की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता मनीषा गंगराडे,माया राठौर,सानू श्रीवास,रेखा भाटी, शोभा यादव, पांच शिला श्रीवास, एवं समस्त आंगनवाड़ी सहायिका कार्यकर्ता ने केन्द्रों में महिलाएं एवं बच्चों को संतुलित आहार के प्रति जागरूक कर राष्ट्रीय पोषण आहार सप्ताह मनाया गया ।सप्ताह के अंतर्गत महिलाये एवं बच्चों को आगनवाडी केन्द्र पर एकत्रित कर पोषण आहार संबंधी जानकारी दी गयी । आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका ने कहा की आज के परिवेश में कुपोषण एक महामारी बन कर सामने आ रही है ।जिसके कारण हमारे बच्चे कमजोर होते जा रहे है । यह कमजोरी एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में पैठ बनती जा रही है ।जिससे निपटने के लिए संतुलित एवं पोष्टिक आहार लेने की जरूरत है। कुपोषण से निपटने के लिए शासन द्वारा कई प्रयास किये जा रहे है ।शासन द्वारा किये जा रहे प्रयास तभी सार्थक होंगे जब हम अपने बच्चों को साफ सुथरा पोष्टिक योक्त भोजन प्रदान करेंगे। और ये पोष्टिक भोजन संतुलित आहार के माध्यम से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।यदि मनुष्य संतीलित आहार लेता है तो उसके शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है और वह कम बीमार पढ़ता है। संतुलित एवं पोष्टिक आहार ही सुखी एवं स्वस्थ जीवन की कुंजी है। कार्यक्रमों में महिला एवं बच्चों से अपील की गयी की वे अपने भोजन में दाल, चावल, हरी सब्जी, रोटी, सलाद, नीबू, आचार, दूध या दूध से बना कोई एक पदार्थ जैसे छाछ, दही एवं कोई एक मौसमी फल आदि का समावेश जरुर करे ताकि उन्हें आवश्यक पोषक तत्त्व मिल सके। साथ ही हाथ धोने की प्रक्रिया भी बताएं।

शेयर करे

Add a Comment